Lic Ajent Yojana-जीवन बीमा अजेंट योजना

Lic Ajent Yojana-जीवन बीमा अजेंट योजना,बीमा अजेंट कैसे बने ,

Lic Ajent Yojana-जीवन बीमा अजेंट योजना

जीवन बीमा जैसा की नाम से ही सब लोग समझ जाते है की ये कोई ऐसी योजना है जो किसी न किसी रूप से

जीवन से जुड़ी है जिससे आमजन को बड़ा लाभ मिलता है ।

जैसा की भारतीय जीवन बीमा का नाम आता है जब भी तो हमेशा ये विश्वास जांग जाता है की हमारे पास एक सरकार बीमा संस्था है जो की आम जन का बीमा करता है ।

जैसा की जीवन बीमा मे कोई भी अपने जीवन का बीमा कराता है तो उसके पास एक अजेंट आता है जो बीमा से जुड़ी हुई जानकारिया देता है ।

बीमा क्या होता है ?

एलआईसी यानि की बीमा नाम से हम एक परिभाषा की कल्पना करते है जैसा की हमारे जोखिम को कम करने वाला साधन है।

जिसके जरिये होने वाली धन जैसी हानी मे कुछ हद तक मद्द हो सकती है ।जैसा की कुछ लोगो की जान माल को खतरा होने का अंदेशा रहता है जिससे की उनको हमेशा डर बना रहता है की काश कुछ भी अप्रिय घटना घटित हो जाती है तो कैसे मेरे परिवार या वारिश की देखभाल हो पाएगी । जिससे आसानी से उनको घर खर्च चलाने मे मदद हो पाएगी ।

LIC-जिंदंगी के साथ भी जिंदगी के बाद भी

इस उद्देश्य को लेकर ही आम जन बीमा करता है जिससे उसके ऊपर आने वाली धन की हानी को कुछ हद तक कम किया जा सके ।

जीवन बीमा

जैसा की कोई भी आदमी बीमा लेता है तो उसको सबसे पहले प्रस्तावक का फोरम भरना होता है । जिसमे जिसका बीमा करना होता है उसके बारे मे सारी जानकारी भरनी होती है।

जैसे की सबसे पहले बीमाकर्ता को अपने बारे मे पूर्ण स्वस्थ होने की घोषणा करनी होती है जैसा की उसको अपनी आयु की जानकारी किशी भी सरकारी प्रमाण पत्र के जरिये देनी होती है जैसा की जन्म प्रमाण पत्र और पेन कार्ड आदि के जरिये

जब उसकी आयु से जुड़ी जानकारी पूरी हो जाती है तो उसको अपनी बीमा पोलोसी का नोमनी बताना होता है जैसा की उत्तराधिकारी जिसको की उसके न रहने पर बीमा राशि दी जा सके

  • नोमनी की जानकारी देने के बाद अपने माता पिता की जानकारी देनी होती है ।
  • इसके बाद उसके परिवार मे भाई बहिन की जानकारी देनी होती है ।
  • जैसा की भाई बहिन के बाद उसके कितने बेटे बेटियाँ है ।
  • उनकी भी आयु के साथ जानकारी देनी होती है ।
  • साथ ही अपने परिवार के सभी सदस्यो की स्वास्थ्य की जानकारी भी देनी होती है ।
  • जैसा की बीमित होने को अपने वजन और लंबाई की जानकारी भी देनी होती है ।
  • उसके परिवार मे कोई वंशानुगत रोग है की नहीं की जानकारी देनी होती है ।

बीमा किस्त कैसे देनी होती है ?

बीमा करते समय किशि भी व्यक्ति को बीमा प्लान जैसा की उसको दो लाख का या अधिक का बीमा करना है।

तो उसको अपनी आयु के अनुसार सालाना ,छ माही ,तिमाही किस्त देनी होती है जो की जीवन बीमा प्लान मे सालो के हिसाब से होती है ।

जैसा की व्यक्ति को किस्त फोरम के साथ जमा करनी होती है साथ ही बीमा जब तक चलता है जब तक उसकी किस्त जमा होती है कुछ बीमा प्लान जैसा की बीमा पूरे जीवन देने का भी बीमा मे घोषणा करनी होती है ।

  • जीवन बीमा किस्त सालाना ,छ माही ,तिमाही योजना

बीमा अजेंट कैसे बनाते है ?

किशी बीमा कंपनी को अपने अपने बीमा अजेंट बनाने होते है । जो की बाहर के लोगो को पूरी तरह से बीमा योजना के बारे मे बता सकते है समझा सके।

अजेंट बनाने के लिए सबसे पहले बीमा का टेस्ट देना होता है जिसको आईआरडीए के जरिये आयोजित किया जाता है । इसके लिए कम से कम ग्रामीण युवक दस्वी पास होना चाहिए इसके अलावा यदि अजेंट बनने वाला युवक शहरी है तो उसका बारवी पास होना चाहिए ।

  • अजेंट बनने के लिए परीक्षा मे बीमे से जुड़े सवाल पुछे जाते है ।
  • जिसका पास होना आवशयक है ।
  • टेस्ट पास होने के बाद युवक को बीमा अजेंट के रूप मे काम करने के योग्य माना जाता है ।

जीवन बीमा अजेंट

जैसा की जीवन बीमा अजेंट बनाने के लिए किशी भी विकास अधिकारी से संपर्क करना होता है

जैसा की अगर आप जुड़ना चाहते है अलवर मे स्थित जीवन बीमा से एक अजेंट के रूप मे

इस मोबाइल नमबर पर संपर्क कर अलवर शहर राजस्थान मे आप एलआईसी अजेंट का टेस्ट देने का फोरम भी भर सकते है।

इसके अलावा आप यदि कोई एलआईसी की बीमा पोलसी का प्लान लेना चाहते है तो भी आप हमारे कमेंट बॉक्स मे बता सकते है की आप को किस तरह का और कितने रुपए किस्त वाला जीवन बीमा यानि की एलआईसी करानी है।

भारतीय जीवन बीमा निगम

जिंदगी के साथ भी ज़िंदगी के बाद भी का नारा दिया है भारतीय जीवन बीमा निगम ने जैसा की जब कभी भी किशी बीमा लेना होता है जैसा की एलआईसी की पोलोसी लेना है सबसे पहले जीवन बीमा का नाम आता है ।

  • जीवन बीमा IRDA संस्था जो की भारत की बीमा नियामक है ।
  • IRDA के नियमानुसार काम करती है जो भारतीय कानून वेध है ।
  • किशी तरह का धोखाधड़ी होने की संभावना नहीं के बराबर होती है ।
  • जैसा की बड़े बड़े बीमे जीवन बीमा के जरिये किए जाते है ।
  • कई बार भी जीवन बीमा के जरिये बड़ा बीमा लाभ देने के खबर भी न्यूज़ पेपर मे आती है ।
  • साथ ही जीवन बीमा आय कर मे भी रियायत देता है ।
  • आय कर रियायत होने के कारण सरकारी नोकरी वाले भी जीवन बीमा को प्राथमिकता देते है ।

इस कारण से जीवन बीमा करने वाले अजेंट पर भी लोग पूरा पूरा विश्वास करते है साथ ही जीवन बीमा अजेंट को भी एक सरकारी नोकरी जैसी सभी सुविधा मिलती है । अगर उसके जरिये ज्यादा से ज्यादा बीमा किए जाते है तो भी अधिक लाभ और सुविधा दी जाती है ।

आईटीआई ट्रेनिंग क्या है जानकारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *